लाल किले की प्राचीर से मोदी नही 2019 का इलेक्शन बोल रहा था

0

नई दिल्ली : स्वतंत्रता दिवस पर पीएम मोदी ने लाल किले की प्राचीर से भाषण दिया। इस दौरान उन्होंने कहा कि विकास की इस दौड़ में हम सब मिलकर आगे बढ़ने का प्रयास करेंगे। लेकिन मोदी का ये बयान एक तरफ अगर हम उनके पिछले 3 सालों का रिकार्ड उठा कर देख लें तो अंदाजा हो सकता है कि मोदी जी ये सब मजाक में कह रहे थे ।

मोदी ने लाल किले की प्राचीर से दिव्य और भव्य भारत का सब्जबाग दिखाते हुए हर साल की तरह इस साल भी ये कहना नही भूले कि हम ऐसा भारत बनाएंगे जहां भ्रष्टाचार और भाई-भतीजावाद से कोई समझौता नहीं होगा लेकिन मोदी ये शायद कहना भूल गए कि उस भारत में इंसानो से ज्यादा जानवरों की कदर होगी ।

मोदी जी ने ये तो कहा कि जीएमसटी से देश की कार्यक्षमता 30 फीसदी बढ़ी है और पिछले साल की तुलना में डिजिटल लेन-देन में 34 फीसदी का बढ़ावा हुआ उससे हजारों करोड़ की बचत हुई है लेकिन उन्हें ये भी कहना चाहिये था कि इस जीएसटी ने हजारों लोगों की जिंदगी भी खराब करके रख दी है और आखिर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी यह भी तो बता सकते हैं कि वह जिस जीएसटी की आज तारीफें कर रहे हैं उसके कसीदे पढ़ रहे हैं आखिर कल जब कांग्रेस हुकुमत इसे लागू करना चाह रही थी तो वह उसका विरोध क्यों कर रहे थे क्या प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी झूठे हैं ?
प्रधानमंत्री के भाषण की यही सब बातें ही तो थी कि जिनके बन यादों पर लोग यह कहने पर मजबूर थे कि यह भाषण स्वतंत्रता दिवस का नहीं बल्कि 2019 के चुनाव प्रचार का है ।

यही वजह है कि @sanjay73sri ने मोदी का जिक्र करते हुए लिखा कि लाल किला के प्राचीर से मोदी का संदेश देश के लिए PM के रूप में नहीं मिला, मोदी का भाषण 2019 के चुनाव प्रचार की तरह महसूस हुआ! @meetpatel125 ने लिखा अगर मोदीजी भाषण देना बंद नहीं करते तो लाल किला खुद गिर जाता।

@NeetSparrow ने लिखा, लाल किले की प्राचीर से 2019 के इलेक्शन का भाषण चल रहा है। किसी एंगल से पीएम का भाषण नहीं लग रहा है ।

@Innocent_launde ने लिखा कि मासूमों के खून के धब्बे यू दामन से धोयेंगे। लगता है साहेब सीधे लाल किला से रोयेंगे। @Jyotiraditya11  ने लिखा, लाल किले पे खड़े होकर मोदी जी नोटबंदी की फिगर दे रहे हैं जो कभी आरबीआई ने नहीं दिए।

@its_abshk ने लिखा, लाल किला पर मोदी कह रहे हैं चलता है का जमाना गया, लेकिन दूसरी ओर अमित शाह गोरखपुर हादसे पर बोल चुके हैं चलता है, ये पहली बार नहीं हुआ।

@Fun_MotivateMe ने लिखा की मोदी ने नेहरू, इंदिरा, राजीव, राहुल, प्रियंक वाड्ऱा किसी का नाम नहीं लिया। काग्रेस ने इस स्पीच को 0 नंबर दिए हैं। @singh140269 ने लिखा, हर बार की तरह ही पीएम ने लाल किले से भाषण दिया और हमें भरोसा दिलाया कि एक दिन हम वर्ल्ड लीडर बनेंगे।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here