फर्रुखाबाद में दोहराया गोरखपुर कांड , ऑक्सीजन की कमी से 50 बच्चों की मौत

0
डॉ कफील

लखनऊ: यूपी में बीजेपी हुकूमत आने के बाद स्वास्थ्य सेवाएं ऐतिहासिक रूप से निम्न स्तर पर आ गई है । स्वास्थ्य सेवाओं की अनदेखी की वजह से पिछले 1 महीने में 250 से अधिक बच्चों की मौत हो चुकी है

उत्तर प्रदेश में गोरखपुर मे ऑक्सीजन की कमी से हुई मौतों के बाद अब फर्रुखाबाद में ऑक्सीजन की कमी की वजह से 30 दिन में 50 बच्चों की मौत का मामला सामने आया है हालांकि घटना के खुलासे के बाद हरकत में आई योगी सरकार ने जिला अधिकारी समेत मुख्य चिकित्सा अधिकारी (सीएमओ) और मुख्य चिकित्सा अधीक्षक (सी एमएस) को हटा दिया।

यद् रहे कि इससे पहले सिटी मजिस्ट्रेट की तहरीर पर कड़ा रुख अख्तियार करते हुए सीएमओ, सी एमएस और डॉक्टर्स के खिलाफ कोतवाली में प्राथमिकी दर्ज कराई गई थी। फ़िलहाल पूरे मामले की जांच के लिए लखनऊ से अधिकारियों की एक टीम फर्रुखाबाद भेजी जा रही है।

पढ़ें : शिवसेना का मोदी सरकार पर हमला कहा नोटबन्दी विफल, मोदी मंत्रिमंडल नही भाजपा विस्तार कर रहे

फर्रुखाबाद के राम मनोहर लोहिया अस्पताल में ऑक्सीजन की कमी की वजह से 30 दिन में 49 बच्चों की असमय मौत होने के बाद सोई हुई सरकार ने अचानक हरकत में आते हुए रिपोर्ट दर्ज करने के साथ ही जिलाधिकारी सीएमओ और सीएमएस इंचार्ज को तुरंत पदमुक्त कर दिया। फिलाल पूरे मामले के लिए मजिस्ट्रेटी जांच का भी आदेश दिया गया है।

पढ़ें : बाबरी मस्जिद की जगह हो राम मन्दिर का निर्माण : शिया वक़्फ़ बोर्ड

फर्रुखाबाद के पुलिस अधीक्षक दयानंद मिश्रा ने आज न्यूज़ एजेंसी को बताया कि सिटी मजिस्ट्रेट जैनेन्द्र कुमार जैन ने सीएमओ, सी एमएस और डॉक्टर्स के खिलाफ आईपीसी की धारा 173, 188 और गैर इरादतन हत्या की धारा 304 के तहत कोतवाली नगर में रिपोर्ट दर्ज कराई है । जल्द ही जांच कर आगे की कार्रवाई सुनिश्चित की जाएगी ।

 

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here