ओवैसी को बंगाल में रोकने के लिए ममता ने चली ये चाल

0

मुखबिर न्यूज: बिहार चुनाव मिली सफलता के बाद असदुद्दीन ओवैसी ने अगले साल होने वाले बंगाल विधानसभा चुनाव में अपने प्रत्याशी उतारने की घोषणा भी कर दी है जिसके बाद बंगाल का सियासी पारा गर्म हो गया है।

मुस्लिम वोटों को ओवैसी के पक्ष में जाने के डर से ममता बनर्जी ने मुस्लिम संगठनों को एकजुट करने में जुट गई है। ख़बर है कि वह विभिन्न मुस्लिम संगठनों से लगातार मुलाकात कर रही हैं। गौरतलब हो कि बंगाल में करीब 30 फीसद मुस्लिम मतदाता हैं जो कई सीटों पर निर्णायक भूमिका निभा सकते हैं।

बंगाल में करीब 100 विधानसभा सीटों पर मुस्लिम मतदाता निर्णायक भूमिका में हैं। इससे पहले मुस्लिमों का समर्थन तृणमूल कांग्रेस को मिलता रहा है लेकिन ओवैसी के आने के बाद  तृणमूल को वोट बैंक खिसकने का डर सता रहा है. दूसरी तरफ उस बीजेपी से पहले से कड़ी चुनौती मिल रही है.

हाल ही में मुस्लिम वोटों के बंटवारे को रोकने के लिए ममता बनर्जी ने फुरफुरा शरीफ के पीरजादा तोहा सिद्दिकी के साथ बैठक की है। वहीं आशंका जताई जा रही है कि ओवैसी को मात देने के लिए ममता स्थानीय मुस्लिमों की मदद से नई पार्टी भी बना सकती हैं।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here