बाबरी मस्जिद की जगह हो राम मन्दिर का निर्माण : शिया वक़्फ़ बोर्ड

0
बाबरी मस्जिद

लखनऊ : शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष वसीम रिजवी ने आज फिर बाबरी मस्जिद की जमीन पर मंदिर बनाने की वकालत करते हुए कहा कि अयोध्या में विवादित बाबरी मस्जिद भूमि पर भव्य राम मंदिर निर्माण होना चाहिए और मुस्लिम बहुल क्षेत्र में मस्जिद बनाई जानी चाहिए।

रिजवी ने आज कहा कि उन्होंने दिगंबर अखाड़ा के महंत सुरेश दास, निर्मोही अखाड़ा के महंत बाबा भास्कर दास और हनुमान गढ़ी निर्वाण अखाड़ा के पक्ष धर्म दास मिलकर विवादित बाबरी मस्जिद भूमि पर भव्य मंदिर निर्माण के लिए आपसी सुलह समझौता का प्रस्ताव पेश किया। जिस पर सभी पक्षों ने इस का स्वागत करते हुए कहा कि वहाँ भव्य राम मंदिर निर्माण होना चाहिए।

शिया सेंट्रल वक्फ बोर्ड के अध्यक्ष ने कहा ‘सुप्रीम कोर्ट में मैंने हलफनामा दाखिल करके कहा है कि विवादित बाबरी मस्जिद भूमि पर राम मंदिर निर्माण होना चाहिए जबकि मस्जिद को इससे कुछ दूर मुस्लिम क्षेत्र में बनाया जाना चाहिए। प्रस्ताव विवादास्पद बाबरी मस्जिद भूमि मामले के पक्षों ने भी इसमें सहयोग की बात की।

उन्होंने कहा कि अयोध्या में जितनी भी मस्जिदें बनी हुई हैं, वे मुस्लिम समुदाय के लिए पर्याप्त हैं और यह सारी मस्जिदें मुझे लगता है हिन्दुओं के सहयोग से ही बनी होंगी। याद रहे कि हाल ही में शिया वक़्फ़ बोर्ड ने बाबरी मस्जिद पर शिओं का हक जताते हुए इसे सम्प्रदायिकता का रूप देने की कोशिस की है । वसीम रिजवी पर आरोप है कि वो ऐसा BJP और RSS को फायदा पहुंचाने के लिए कर रहे हैं ।

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here